डिजिटल विमर्श
Home » लेख » समाचार » आदरपूर्ण श्रद्धांजलि

आदरपूर्ण श्रद्धांजलि

आदरपूर्ण श्रद्धांजलि स्व. श्री प्रकाशचंद्र सिंह हैहयवंशी (मुन्ना फौजी)

मुन्ना फौजी, ऐसा व्यक्तित्व जो बिना प्रत्यक्ष मिले भी आपको अपना बना लें । सोशल पटल पर सामूहिक चर्चाओं में अगर आपसे बात होने लगे तो कुछ ही समय मे आपसे  उनके अपनत्व भरे संबंध हो जाते हैं, सामाजिक विषयों पर स्पष्ट विचार, समाज के लिये निस्वार्थ कर्तव्य भावना और सबको साथ लेकर चलने की अनोखी अदा, मुन्ना फौजी भैया को सबसे अलग बनाती हैं।

 

संक्षिप्त जीवन परिचय

प्रकाश चन्द्र सिंह हैहयवंशी अर्थात मुन्ना फ़ौजी सेना में थे देश के लिए कारगिल युद्ध में भाग लिया था और अद्भुत वीरता और शौर्य का परिचय देते हुए अपनी राजपूताना बटालियन के साथ पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार भगाया था। वह रियल हीरो थे।

भारतीय सेना की ओर से सहभागिता

  • कारगिल युद्ध में
  • सोमालिया में शांति सेना के रूप में
  • श्रीलंका में लिट्टे से लड़ाई में
  • दक्षिण अफ्रीका 
  • वियतनाम आदि
  • भारत में तमाम आपरेशन 
  • आसाम में आपरेशन बजरंग

भगवंत नगर से ग्राम प्रधान के पद पर दावेदारी करी थी।

१३ अगस्त २०१७ कानपुर अधिवेशन/चुनाव में अखिल भारतीय हैहयवंशी क्षत्रिय केंद्रीय संचालन समिति शाखा उ०प्र के बैनर तले वर्तमान हैहयवंशी क्षत्रिय युवा मंच (न्यास) के द्वारा आयोजित किए गए प्रथम प्रादेशिक चुनाव में प्रदेश अध्यक्ष पद पर निर्वाचित हुए थे।

जीवन भर जीतने वाले मुन्ना फौजी आज सुबह वैश्विक महामारी कोरोना से लड़ाई में अपने जीवन की जंग हार गए अपने पीछे परिवार में उन्होंने पत्नी १ पुत्र और १ पुत्री को छोड़ गए।

डिजिटल पत्रिका विमर्श परिवार कर्मवीर समाजसेवी स्वर्गीय श्री प्रकाशचंद्र सिंह हैहयवंशी (मुन्ना फौजी) को समस्त विमर्श परिवार और सम्पूर्ण हैहयवंशी समाज की और से आदरपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित करता है  

टेक्स्ट की साइज़ सेट करें

इस लेख के रचनाकार से मिलिये

प्रदीप वर्मा (हैहयवंशीय)

मास्टर इन कम्प्युटर एप्लिकेशन (MCA), मास्टर इन हिन्दी लिट्रेचर (MA, साहित्य), पी॰एस॰एम॰ (scrum॰org, यूएस), बेचलर ऑफ लॉं (LLB ऑनर), बेचलर ऑफ कॉमर्स, एम.एस.पी.सी.ए.डी.

हमारा धर्म हमारी संस्कृति

टेक्स्ट की साइज़ सेट करें