डिजिटल विमर्श

लेख

Home » लेख

कविता वर्मा: मृदुभाषी दृढ़ व्यक्तित्व साहित्यकारा

कविता वर्मा: मृदुभाषी सुदृढ शख़्सियत कविता वर्मा जी, हिंदुस्तान के दिल मे रहती हैं, हिंदुस्तान का दिल मध्यप्रदेश की आर्थिक और सांस्कृतिक राजधानी इंदौर, जिसने संगीत, साहित्य और सांस्कृतिक कलाधर्म के बड़े बड़े हस्ताक्षरों को...

संपादकीय: गौरवपूर्ण इतिहास की आवश्यकता

हैहयवंश के सच्चे गौरवपूर्ण इतिहास की आवश्यकता संपादकीय नमस्कार, समाज मे एक तरफ यह आशा है कि हैहयवंश की उंगली थाम कर हम अपने पुरातन गौरव का अनुगमन भविष्य में भी कर पाएंगे, वहीं दूसरी और हैहयवंश के नाम पर अज्ञानता और...

व्यक्ति विशेष: वरिष्ठ IFS अधिकारी संजय मोहन जी

व्यक्ति विशेष: वरिष्ठ IFS अधिकारी संजय मोहन जी विमर्श का यह स्तम्भ, “व्यक्ति-विशेष” समाज के विशेष व्यक्तियों को समर्पित है जिनके जीवन-वृत्तांत की छोटीसी झलक समाज के बहुत से लोगों को खास कर युवाओं को प्रेरित...

साक्षात्कार इस बार: श्रीमती शशि खमेले

साक्षात्कार इस बार: श्रीमती शशि खमेले साक्षात्कार इस बार की हमारी मेहमान हैं श्रीमती शशि खमेले , नागपुर व राष्ट्रीय अध्यक्ष, हैंहयवंशिय क्षत्रिय केंद्रीय संचालन समिति, नई दिल्ली । साक्षात्कार इस बार नमस्कार शशि जी आप...

संपादकीय: समाज की आकांक्षा

संपादकीय: समाज की आकांक्षाएं सबसे बड़ा संघर्ष अपनो के साथ ही होता है । वैचारिक मतभेद की स्थिति अक्सर समूहों में होती ही है । यह संभव ही नही की हर व्यक्ति किसी विषय पर एकमत हों । मनुष्य को ईश्वर ने मस्तिष्क दिया है और...

संपादकीय

संपादकीय समाज की पहली डिजिटल पत्रिका “विमर्श” का यह प्रथम अंक आपके समक्ष प्रस्तुत करते हुए मुझे और “विमर्श” की पूरी टीम को अत्यंत प्रसन्नता का अनुभव हो रहा है । यह पत्रिका हमारे सामाजिक सरोकारों...

हर्बल राज्य का सपना कब होगा साकार

छत्तीसगढ़ को विश्व का पहला “हर्बल राज्य” राज्य घोषित किया गया है। यह एक सकारात्मक पहल है। कल्पना की जा रही है कि हर्बल राज्य आर्थिक दृष्टि से संपन्न तो होगा ही होगा, इसका प्रशासनिक ढांचा भी चुस्त दुरुस्त...

आत्मा की आंखें: रामधारी सिंह दिनकर

राष्ट्रकवि ‘दिनकर’ की कविताओं में एक और ओज, विद्रोह और क्रांति की पुकार है तो दूसरी और कोमल श्रृंगारिक भावनाओं की अभिव्यक्ति । वे संस्कृत, बांग्ला, अंग्रेजी और उर्दू भाषा पर आधिकारिक पकड़ रखते थे । पद्मविभूषण...

हस्तकला का शानदार प्रदर्शन

राजस्थान का कोटा शहर यूं तो देश भर मे कोटा स्टोन और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के केंद्र के रूप मे जाना जाता है, लेकिन आज हम आपके सामने प्रस्तुत कर रहे हैं हैहयवंशीय क्षत्रिय समाज के एक ऐसे कलाकार को जो वैसे तो एक...

ये हैं भविष्य के रोजगार, अपने बच्चों को करें तय्यार

जो लोग भविष्य की तैयारी वर्तमान में कर लेते हैं उनका भविष्य सफलतम समय देखता है । कोई खेल हो, जिंदगी के सपने हों, या रोजगार और अच्छे कैरियर की अभिलाषा, सफलता आज की आज नहीं मिलती । आज जिनको सफलता मिली है, उनकी तैयारी...

हर गोली सीने पर झेलें…

हम क्रान्ति वीर वतन के दीवानेमौत मिले या मिले ज़िन्दगीडरना, घबराना क्या जाने?ग़दर, जंग, विद्रोह से खेलेंहर गोली सीने पर झेलेंसिर्फ लड़ें हम देश की खातिरदुश्मन को गन्ने-सा पेलें!क्रान्ति की बारूद जलाकरबम, पिस्तोल, तलवार...

सामाज में एकरुपता व उत्तरदायित्व

समाज की वास्तविक शक्ति समाज के सदस्यों में निहित होती है. सामाजिक जीवन में समाज के सदस्यों का आशावादी, सकारात्मक दृष्टिकोण, सकारात्मक सोच का होना का अत्याधिक महत्वपूर्ण होता है. समाज के सदस्यों की सकारात्मक सोच...

रक्षा बन्धनः श्रवण नक्षत्र बिन बंधेगा इस बार रक्षा सूत्र

सत्य सनातन वैदिक हिन्दू धर्म  मे बहन-भाई के  पबित्र त्यौहार रक्षा बन्धन का बडा ही महत्व है इस पवित्र दिन की प्रतीक्षा बहने साबन मास के  आरम्भ होते ही करना आरम्भ कर देती है इस दिन बहनो  द्वारा अपने भाईयो तथा अशक्त लोगो...

श्री सहस्रार्जुन की माहिष्मति : विलुप्त होती हमारी गौरवशाली ऐतिहासिक विरासत

महेश्वर : मध्यप्रदेश के खरगोन जिला स्थिति मोक्ष-दायिनी माँ नर्मदा के पावन तट पर बसा यह नगर आज एक बार फिर से सुर्ख़ियों में है । दिनांक 01/07/2019 से 07/04/2019 तक यहाँ बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता सलमान खान एवं उनके...

दुःख और सुख मिल-बाँटकर हलके करें

हम सभी में एक ही आत्मा समाई हुई है। एक धागे में पिरोए हुए मनकों की माला की तरह हम सब परस्पर जुड़े और गूँथे हुए हैं। सुख को अकेले हजम करने वाला अंतरात्मा की धिक्कार का, परमात्मा के कोप का और विश्वात्मा के प्रतिशोध का...

वृक्षों वनस्पति को संतान की तरह प्यार करें..

प्रजनन रोकें वृक्ष उगायें, शिक्षा और सहकार बढायें।। 11 जुलाई 2021 माननीय प्रधानमंत्री जी कह रहे हैं कि ”जन संख्या विस्फोट भविष्य के लिए खतरा है अपने परिवार को सीमित रखना भी देश भक्ति है।”  बिल्कुल सही कहा...

समाज की बेटी ने किया नाम रोशन

हैहयवंशी क्षत्रिय समाज मे वरिष्ठ समाजसेवी एंव श्री अखण्ड हैहयवंशी क्षत्रिय विकास समिति के राष्ट्रीय सहप्रचारक आदरणीय केदारनाथ  जी की सुपुत्री कुoआकांक्षा सिंह हैहयवंशी ने CBSE बोर्ड 12वीं की परीक्षा में 96.4% अंक लाकर...

टू व्हीलर निर्माताओं का स्मार्ट इलेक्ट्रिक स्कूटर की ओर कदम

टू व्हीलर निर्माताओं  का  स्मार्ट इलेक्ट्रिक स्कूटर की ओर कदमजब हम अपने बचपन को याद करते हैं   और पिताजी के साथ उन आनंदमय स्कूटर की सवारी को याद करते हैं, तो हम उसी पुराने स्कूटर की छवि बनाते हैं जिसमें आईसी इंजन होता...

अबला नहीं में एक नारी हूँ

ना तो मैं अबला नादान हूँना तो मैं लाचार हूँमें कमजोर नही हूँ मै एक नारी हूँमें एक नारी हूँ मै एक नारी हूँएक नारी हूँ मुझ में ही सम्पूर्ण संसार समाया है में खुद क्या बोलू में एक नारी हूँनारी शक्ति राष्ट्र शक्ति का अभिन्न...

हमारी धरोहर: भाग दो

हैहयवंशीय गौरव वर्मास्तंभकार का एक संक्षिप्त परिचय नाम:गौरव वर्मा ( वर्तमान प्रवक्ता अंग्रेजी एवं पूर्व प्रधानाध्यापक ) निवास: नगर फर्रुखाबाद, उत्तर प्रदेश। सम्मानित वरिष्ठ सदस्य- ' दीप ' ( साहित्यिक, सांस्कृतिक एवं...

सावन के स्वागत में

सावन के स्वागत में, बाँसुरी की तानें,कोयल भी कूक उठी, राग पूर्वा गाने।बूँदों की खुमारी से, अम्बुआ भी बहका,सृष्टि के यौवन से, मन उपवन दहका।घटा, मोर, पपीहे लगे गीत सुनाने,मनुहारें इन्द्रधनुषी, मधुरम मुस्कानें।तोड़ तट...

बाबा कपिलेश्रर महादेव का वार्षिक श्रृंगार एवं भव्यरुद्राभिषेक

वाराणसी 31/7/2012 दिन शनिवार को कपिल धारा में बाबा कपिलेश्रर महादेव का वाषिक श्रृंगार एवं भव्यरुद्राभिषेक भव्य श्रृंगार एवं विराट आरती एवं प्रसाद वितरण भी किया गया| वाराणासी श्री हैहय वंशीय क्षत्रिय कसेरा महासभा की ओर...

हैहयवंशीय क्षत्रिय समाज के स्वर्णिम हस्ताक्षर : श्री रामसहाय हयारण “प्रचंड”

जीवन का " प्रचंड " परिचय मध्यप्रदेश के सागर जिले के मालथौन नामक एक छोटे से कस्बे के मूल निवासी रहे स्व.श्री नाथूराम जी की 2 पत्नियां थीं । आपकी प्रथम पत्नि स्व.श्रीमती मथुरा बाई से 2 पुत्र स्व.श्री रामलाल जी, स्व.श्री...

प्राणों को अर्पित करें – भारत माँ के नाम

स्वतन्त्रता संग्राम था, प्राणों का बलिदान,आज़ादी अब हो गई, सियासी घमासान।मुल्क, मशालें, अलविदा, प्राणों की थी सेज,सरफरोशी हसरतें, आज़ादी लबरेज़।बम, धमाके, इन्क़लाब, क्रान्ति, जाँ-निसार,आज़ादी देकर गये, कुर्बानी के यार।ज़ेल...

कविता: बेटियाँ

बिक गये घर कई, बिक गयी खेतियांबैठ पायी है डोली में तब बेटियां ।माँ की चूड़ी बिकी, बिक गयीं बालियांहाथ मेहँदी रचा पायी तब बेटियां ।हलवा, पूड़ी तो बेटो के खातिर बने,बॉसी रोटी चबाती रही बेटियां ।भैया, भाभी भी अपमान करते...

भारतीय भोजन से दूर होने के दुष्परिणाम

भारतीय भोजन से दूर होने के दुष्परिणाम इम्युनिटी पावर कैसे बनेगी, हर भारतीय गंभीर बीमारियों का शिकार – हर घर होंगा अस्पताल,शुरूआत हो चुकी है, बंद नही हुई मिलावट तो “बल, बुद्धि, पौरूष सब क्षीण” 40% आबादी...

सेवा संस्मरण: मेरे बाद

व्यक्तिगत, सामाजिक एवं सार्वजनिक जीवन में उम्र के अंतिम पड़ाव पर..मेरे अंतर्मन में यह ख्याल बार-बार आता है, कि मेरे बाद, वर्षों से कभी न टूटने वाली चिर निद्रा में सोये मेरे बिखरे हुए हैहयवंशीय क्षत्रिय समाज का ख्याल कौन...

यूथ प्रेरणा: युवा ही भारत को विश्वगुरु बना सकते हैं

मित्रो, नमस्कार !आप सबों का स्वागत है, हैहयवंशीय छत्रिय समाज की एकमात्र डिजिटल पत्रिका विमर्श के नए स्तंभ “युथ प्रेरणा” में जिसकी शुरुआत आजादी के 75 वर्ष के उपलक्ष में युवाओं को प्रेरित करने के नेक उद्देश्य...

वीरांगना मानवती बाई जयंती: कानपुर, बनारस, भगवंत नगर

कानपुर में वीरांगना मानवतती बाई हैहयवंशी का बलिदान दिवस  मनाया  कोरोना के साए में कानपुर में वीरांगना मानवतती बाई हैहयवंशी का बलिदान दिवस  मनाया गया | उपस्थित महानुभावों ने वीरांगना को श्रद्धा सुमन अर्पित कर श्रद्धांजलि...

आओ एकता के दीप जलाये

संकल्पो का दीप प्रज्वलित कर , रक्तबीज कोरोना को भगाये । आओ एकता के दीप जलाये, विषाणु कोविद १९ को हराये।। देश मे आयी, विपदा भारी,मौतो की सिलसिला जारी। शातिर आतंकी है मानकर,मुक्त करना है दुनिया सारी।। हिन्दू आये, मुस्लिम...

महादेव का बनारस

कभी आऊंगा चौखट पे तुमहरी देखे कब तुम बुलाते हो बैठुंगा घाट पे भी तुम्हरी देखे कितना लहराती हो घोटुंगा भाँग भी देखे कितना चढ़ जाते हो घूमुंगा गलियों में भी तुम्हरी देखे कितना भूलाती हो धुनी रमाऊंगा मन्दिर के किसी कोने...

कलयुग

भीख मांगे भिखमंगा मन राशन ले तउन भिखारी दान करे जुवारी मन अऊ भोग करे पुजारी । खेत जाये किसान अनाज रोपे बनिहार धान निकाले हार्वेस्टर मंडी ले जाये दलाल । किसान रोये दर दर नेता जोड़े खड़े हाथ अऊ मंद मंद मुस्काये लूट गे हे...

श्वासों की जुगलबंदी

जब योग सितार बजता है, तन में सुर-ताल सजता है। फ़िक्र करो उसकी यारों, जो दिल के साथ धड़कता है। संभावना है शिखरों की, जब योग का जादू चलता है। श्वासों की है जुगलबंदी, मौन का संगीत झरता है। गीता गा और दृष्टा बन, क्यों घर...

चार लाइणा: नशा रोको

नशा जहर है नशा जहर है मत अपनाओ क्यों खुद अपनी मौत बुलाओ. गुटके पर प्रतिबंध लगे प्रतिबंधों की लूट है लूट सके तो लूट, गुटके प्रतिबंध लगे दारू पर है छूट. दारू पर है छूट सिगरट पियो मजे से, मरना सबको इक दिन तुम तो जियो मजे...

जात न पूछो साधु की

किसी भी तालाब के पानी को गंदा होने में ज्यादा वक्त नही लगता, जबकि नदी का पानी अपनी रवानगी, अपने बहाव के कारण शुद्ध होता रहता है ।हमारा मस्तिष्क भी पोखर हो सकता है, तालाब हो सकता है, नदी हो सकता है और समुद्र भी हो सकता...

मिठाइयों के संदेश

प्रेषक: श्री गोपाल कसेरा (फोन: 8602699970) हमारी मिठाइयों पर गौर कीजिए, कुछ ना कुछ संदेश देती है, जैसे 1️⃣ *जलेबी* आकार मायने नहीं रखता, स्वभाव मायने रखता है, जीवन मे उलझने कितनी भी हो, *रसीले और मधुर रहो* ॰॰ 2️⃣...

टेक्स्ट की साइज़ सेट करें