72वां गणतंत्र दिवस पर झंणतोलन कार्यक्रम धूमधाम से मनाया

हैहयवंशी क्षत्रिय कसेरा समाज, डेहरी-डालमियानगर के द्वारा श्री मॉ निकेतन , पाली रोड, डेहरी के प्रांगण में 72वां गणतंत्र दिवस पर झंणतोलन कार्यक्रम बड़े धूमधाम से मनाया गया। इस कार्यक्रम मे कसेरा समाज के मुख्य अतिथि डा. उमा वर्मा द्वारा झंडोत्तोलन किया गया, और वहां उपस्थित स्वजातिय बंधुओं द्वारा गर्व के साथ राष्ट्र-गान गाया गया […]

Continue Reading

ताम्रकार समाज बीना द्वारा स्नेह मिलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन

बीना : हैहयवंशीय क्षत्रिय ताम्रकार समाज बीना के तत्वावधान में दिनांक 14/02/2021 को स्थानीय मां गायत्री शक्तिपीठ मंदिर परिसर में स्नेह मिलन एवं सम्मान समारोह का आयोजन मुख्यअतिथि स्थानीय विधायक श्री महेश राय जी, भाजपा मंडल अध्यक्ष पं श्री शुभम तिवारी जी, श्री प्रदीप टढ़ईया जी सहित स्थानीय एवं बाहर से पधारे हुए स्वजातीय बंधुओं […]

Continue Reading

दृष्टिकोण

(मूल कहानीकार श्री विजय कुमार, मध्य प्रदेश, प्रकाशन राष्ट्रधर्म, लखनऊ) एक गाँव में दो भाई रहते थे, दोनों में एक बार जमीन -जायदाद को लेकर झगड़ा हो गया, गाँव वालों ने फैसला करना चाहे तो दोनों को मान्य नहीं हुआ l तब उन्होंने उन भाइयों से कहा कि वह पास के रहने वाले पटेल के […]

Continue Reading

सेवा, शिक्षा और दानशीलता के पर्याय : श्री नन्दकिशोर जी बड़वार (ताम्रकार)

(7 फरवरी 22 वाँ पुण्य स्मरण) मध्यप्रदेश के सागर जिले की सबसे प्राचीनतम एवं बड़ी तहसील के रूप में विख्यात खुरई नगरी की पहचान सबसे उन्नत किस्म के गेंहू के उत्पादन और गुणवत्ता पूर्ण कृषि संयंत्रों के निर्माण के रूप में होती है ।  खुरई नगर के हैहयवंशीय क्षत्रिय ताम्रकार समाज में पीतल बर्तन निर्माण और […]

Continue Reading

निष्काम कर्मयोगी: श्री हरीनारायण जी ताम्रकार

26 जनवरी 2021 (15 वीं पुण्यतिथि पर विशेष) मध्यप्रदेश के सागर की पहचान शिक्षाविद डॉ सर हरिसिंह गौर विश्वविधालय के लिये देश और दुनियाँ में होती है । झीलों की नगरी सागर के केशवगंज वार्ड में हैहयवंशीय क्षत्रिय समाज के ” पायगा वाले ” परिवार में चांदी के आभूषणों का निर्माण कार्य से जुड़े श्री […]

Continue Reading

मूर्ख व्यक्ति की विध्वंसक शक्तियां

यह लेख विश्वप्रसिद्ध लेखक “Carlo M Cipolla” की पुस्तक “The Basic Laws of Human Stupidity” मे दिए गये सिद्धांतों पर आधारित है | इसका समाज के किसी व्यक्ति से कोई सरोकार नहीं है, अगर ऐसा लगता है तो यह महज एक संयोग ही होगा | मूर्खता करने वालों को कम न आंकें समझदार लोगों की […]

Continue Reading

जिंदगी रंग बसंत

जिंदगी कई रंगों से सजी होती है इसीलिए जिंदगी कहलाती है । माघ माह का पांचवा दिन बसंत पंचमी के रूप में मनाया जाता है और बसंत भारतीय मौसम में सबसे ज्यादा खुशनुमा मौसम माना जाता है । यह मौसम न सिर्फ खेत खलिहानों में तेजस्विता लाता है बल्कि मानवीय जीवन मे प्रेम का अंकुरण […]

Continue Reading

काव्य कृति क्रांतिदूत

आपातकाल पर पहली पठनीय काव्य-कृति क्रंतिदूत: आपातकाल और श्री जयप्रकाश नारायण                         विमोचन दिनांक १६-०१-२०२१  प्रेस क्लब रायपुर –                                                 काव्य  कृति क्रांतिदूत के सम्बन्ध मैं दो शब्द श्री रामाधारी सिंह दिनकर जी ने लोकनायक जयप्रकाश नारायण जी के बारे में लिखा था जयप्रकाश नाम है आतुर हठी जवानी का जयप्रकाश नारायण जी विलक्षण प्रतिभा के धनी […]

Continue Reading

खून का असर

खून का असर सरयूप्रसाद कोर्ट में स्टेनो -ग्राफर के पद पर कार्यरत थे दिखने में सुंदर ऊचे पूरे|उन्होंने अपने परिवार से बगावत करके अपनी एक रूपवती सहकर्मी से प्रेम-विवाह किया इसके लिए उन्होंनेअपने बुजुर्ग माता -पिता का कोइ ख्याल नहीं किया उन्हें असहाय छोडकर अपनी रूपवती अर्धांग्नी को लेकर सरकारी बंगले मै जुगाड़ कर रहने […]

Continue Reading

वसंत के रंग समाज के संग

वसंत के रंग समाज के संग बसंत पंचमी को  हमारे समाज में बहुत ही शुभ मुहूर्त समझा गया है। प्राय: हर समाज में इस नवागुत शुभ मुहूर्त में बहुत से चीजों जैसे संस्कार कार्य, गृह प्रवेश, विद्या किये जाने हेतु और शादी विवाह आदि के अनेक रस्म की प्रारम्भ बसंत पंचमी के अवसर पर किये […]

Continue Reading

श्रेष्ठ विकासशील सामाजिक संगठन के लिए आवश्यक तत्व

श्रेष्ठ विकासशील सामाजिक संगठन के लिए आवश्यक तत्व मानव आदिकाल से ही सामाजिक प्राणी होकर, अपना समाज, समूह बनाकर रेहता है | वह अपनी स्वयं की, परिवार की समस्त गतिविधियां सामाजिक संबंधों के अन्तर्गत करता हुए, अपनी आवश्यकताओं की पुर्ती करता है |समाज में रहकर ही, सामाजिक संबंध के अन्तर्गत, वह अन्य व्यक्तियों से लोकव्यवहार, […]

Continue Reading

समीक्षा एवं समाधान

(अविवाहित यूवओ की बढ़ती      उम्र व संख्या आप और हम  मौन-जिम्मेदार कौन) समाज का विकास चाहिये तो हमे अपना सामाजिक नज़रिया बदलना होगा  किसी भी समस्या को हम सभी एक मंच पर आकर विचार विमर्श कितना भी कर ले परन्तु ये तब तक सुधार के  परिणाम नही दिखेंएगे जब तक हम  उन  सभी […]

Continue Reading

टेसुई यादें

फिर वसंत ने भेज दिया एंक खत मौलश्री के नाम ! सिलसिला फिर शुरु होगा मनुहार का नेह-निष्ठ भावों के बढ़ते ज्वार का राग-अनुराग आस्था की हरियाली में हैं फूटते रिश्ते प्रेम के बनते अचानक टूटते पागल हवाएँ भेजतीं मेघों को कोई संदेश अनाम! दहक उठे टेसुई यादों के पलाश वन युग बीते, नैन रीते […]

Continue Reading

टेसू राग

टेसू बिन फागुन न होय बसंत ऋतु आते ही अनायास लाल – लाल टेसुओं की याद हो आती है। बनन – बागन में टेसुओं का फूलना और अन्य वृक्षों से पत्तों का झड़ना यह प्रकृति प्रदत्त उपहार है।आमों का बौर लगना ,कोयल का कूकना व खेतों में सरसों का लहलहाना एक खुशनुमा माहौल बनाता है।इसलिए […]

Continue Reading

फिर धार किसलिए

फिर धार किसलिए मुश्किल में जब कोई कामं न आये । जीवन का बोलो फिर सार किसलिए। लिखा किसी के जब काम न आये। बोलो कलम में फिर धार किसलिए । अपनों के ही सुख दुःख में शामिल। बाकी देखो फिर संसार किसलिए । बीच भवर में जब भी फस जाये नैय। बोलो हांथों में […]

Continue Reading

रंग वसंत के

(एक) कचनारी देह में पलाश रख गयी बयार वसंत आते आते! अंतस् के आँगन में अमलतास बौराए चाह के हिरन मचले पलकों से बतियाये रतनारे नयनों में तलाश कर गयी बयार वसंत आते आते! उत्पाती भ्रमरों के सम्मोहन छोर-छोर वनवासी कलियों में गंध उठी पोर पोर फगुनायी श्वासों में मिठास भर गयी बयार वसंत आते […]

Continue Reading

वसंत गीत: वसंत ने ली अंगड़ाई

गात अद्भुत प्रकृति निज सजाई, वसंत ने ली अंगड़ाई। ठंड खेल गई छुपन-छुपाई, वसंत ने ली अंगड़ाई। अल्हड़ बयार छू-झोर हौले-हौले, मदन रस आमों व महुओं में घोले, प्रीति-गीति कोकिलों ने गाई, वसंत ने ली अंगड़ाई। गात अद्भुत प्रकृति निज सजाई, वसंत ने ली अंगड़ाई। ठंड खेल _ _ _ अरहर व सरसो की पीत […]

Continue Reading

संघर्ष विजय का दुहराता हूँ मैं

कदम से कदम मिलाकर लोगो सुबह के साथ चलता हूँ । लक्ष्य पर अपनी पैनी नजर रख भेदने का दम रखता हूँ । . कदम से कदम मिलाकर हम भी किसी से कम नहीं बार -बार विश्वासव दिलाता हूँ। नाव अगर हमको डुबाये तैरकर निकलने का दम रखता हूँ । कदम से कदम मिलाकर रह […]

Continue Reading

ज्ञान का दीपक जलाना है

कदम से कदम मिलकर साथ चलना है । मुश्किल रास्तों को भी आसान बनाना है। जिस – जिस घर में भी घनघोर अन्धेरा है । उस घर में हमे ज्ञान का दीपक जलाना है । जो भी भटके हुए लोगों को राह दिखाता है। उसके कदमों में ही यार झुकता जमाना है। काम हमको नेकी […]

Continue Reading

ओ ऋतुराज बसंत आओ निमन्त्रण स्वीकारो

ओ ऋतुराज बसंततुम्हारे आगमन क़ीभारतवासी बड़ी बेसब्री सेप्रतीछा करते हैंआपके आगमन परमायूसी पर मस्ती छाती हैधरा पर नया आवरण चढाते होवशुन्धरा दुल्हन सा श्रृंगार करगदगद हो उठती है वर्ष भर से मौनकाली कलूटी कोयलियापागलों सीएक ड़ाल से दूसरी ड़ाल परफुदक-फुदक करआपके आगमन कीघोषणा करती है .कुहू-कुहू की मधुर वाणी सेसारे वातावरण कोसगीतमय बनाती है . […]

Continue Reading

आध्यात्म: अंतस् का फाग

जिंदगी कैसी भागमभाग, संचय, नर्तन और संताप। ढलता सूरज, सागर तट पर, सजी पालकी चला उजास। बेशकीमती साँसों का घर, आत्म-वैभव से आबाद। सात्विकता की दौलत जोड़ो, योग जगाये अन्र्तआग। मौन की भाषा योग सिखाता, स्वानुभूत वासंती राग। विषैले नागों को नथकर, योग चखाता अमृत स्वाद। योग के दो अलौकिक अक्षर, अन्तर्दृष्टि और वैराग। साक्षी […]

Continue Reading

जागो पृथ्वीराजो जागो

जयचंदों ने अपने सिर फिर उठाना शुरू किया है प्रथ्वीराजो जागो देश फिर तुम्हे पुकार रहा है अपनों और परायों की जिनको कोई पहचान नहीं है अंबर आग उगलता है शायद उनको इसकी खबर नहीं है जहर को अमृत कहकर अब फिर बाँट रहे हैं लोग आज हमारा दिल है घायल कैसे रिश्ते घाव भरेंगे […]

Continue Reading

अयोध्या : प्रभु श्री राम की जन्मभूमि

“ मर्यादा पुरूषोत्तम, धर्मरक्षक  प्रभु श्री राम और उनकी जन्मभूमि के रूप में अयोध्या निश्चित रूप से हमारी आन-बान और शान सहित हमारी श्रद्धा एवं  आस्था के प्रतीक हैं ”  लगभग 500 वर्षों से चले आ रहे श्रीराम जन्मभूमि विवाद के पटाक्षेप होने के उपरांत, भगवान श्रीराम की जन्मभूमि अयोध्या में विशालतम और भव्य मंदिर […]

Continue Reading

खुरई: स्नेह मिलन बैठक, भव्य अभिनंदन एवं  अलंकरण समारोह

खुरई: स्नेह मिलन बैठक, भव्य अभिनंदन एवं  अलंकरण समारोह हैहयवंशीय क्षत्रिय समाज मातृशक्ति कल्याण समिति (पंजीकृत) एवं रिश्तों की ” शुभ पहल ” सेवा परिवार (पंजीकृत) के संयुक्त तत्वाधान में मध्यप्रदेश के सागर जिले की खुरई तहसील अंतर्गत ग्राम गढ़ोला जागीर स्थित ” माँ शक्ति ” के दरबार में दिनांक 7 फरवरी 2021 दिन रविवार […]

Continue Reading

श्री चिंता हरण गणेश मन्दिर में भव्य श्रृंगार

श्री हैहय वंशीय क्षत्रिय कसेरा महासभा की ओर से हर वर्ष की  भांति इस वर्ष भी श्री गणेश चौथ के अवसर पर श्री चिंता हरण गणेश मन्दिर में भव्य श्रृंगार व  प्रसाद वितरण सम्पन्न हुआ |  वाराणसी श्री हैहय वंशीय क्षत्रिय कसेरा महासभा द्वारा गणेश चौथ के अवसर पर भव्य श्रृंगार एवं विराट आरती एवं […]

Continue Reading

हैहयवंशी क्षत्रिय क्रिकेट लीग कानपुर

हैहयवंशी क्षत्रिय क्रिकेट लीग कानपुर के आयोजन का शानदार समापन दिनांक 26 ,01, 2021 को रतन लाल शर्मा स्टेडियम में हुआ  यह मात्र खेल नहीं था इस खेल के माध्यम से युवाओं को और सामाजिक जनों को जोड़ने का बहुत बड़ा माध्यम था इस कार्यक्रम से समाज के युवाओं में और समाज में अद्भुत ऊर्जा […]

Continue Reading

श्री योगेश ताम्रकार जी से विशेष सौजन्य मुलाकात

भारतिय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष आदरणीय श्री योगेश ताम्रकार जी से विशेष सौजन्य मुलाकात केंद्रीय संचालन समिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष आदरणीय श्री गुलाब चन्द्र जी कसेरा के निवास स्थान पर हुई । समाज के प्रतिनिधियों (बगीची विकास समिति) के साथ श्री प्रदीप वर्मा (डिजिटल पत्रिका विमर्श), श्री आशीष कसेरा, श्री गोपालदास गोंदीवाले, श्री गजेंद्र […]

Continue Reading

लोकतंत्र सेनानी के घर पहुंचे अधिकारी, सम्मान किया गया

बांदरी में गणतंत्र दिवस पर प्रशासनिक अधिकारी लोकतंत्र सेनानी डाॅ. गौरीशंकर वर्मा के घर पर पहुंचकर उनका सम्मान करते हुए।  *बांदरी।*  राष्ट्र के 72 वें गणतंत्र दिवस पर प्रशासनिक अधिकारियों ने बांदरी के लोकतंत्र सेनानी डॉ गौरीशंकर वर्मा  के घर जाकर शॉल एवं श्रीफल भेंटकर सम्मान किया। राज्य शासन द्वारा कोविड-19 के मद्देनजर स्वतंत्रता संग्राम […]

Continue Reading

प्रतिष्ठित उधौगपति एवं समाजसेवी ड़ॉ श्री पवन जी ताम्रकार, उंचेहरा को ” हैहय कुलभूषण अलंकरण “

प्रतिष्ठित उधौगपति एवं समाजसेवी ड़ॉ श्री पवन जी ताम्रकार, उंचेहरा को ” हैहय कुलभूषण अलंकरण “ “माँ शक्ति ” के दरबार में विमर्श राष्ट्रीय डिजिटल सामाजिक पत्रिका परिवार के द्वारा पीतल एवं काँसा बर्तन निर्माण उधौग से जुड़े स्वाजातीय बंधुओं की समस्याओं और हितों के लिये अनवरत संघर्ष करने वाले प्रतिष्ठित उधौगपति एवं समाजसेवी ड़ॉ […]

Continue Reading

कसेरा समाज बगीची विकास समिति द्वारा गणतंत्र दिवस समारोह का आयोजन

आज इंदौर में कसेरा समाज बगीची विकास समिति द्वारा कसेरा समाज बगीची (पितृ वाटिका) में समाज के गणमान्य नागरिकों के साथ ध्वजारोहण और ध्वजावन्दन किया गया । इस कार्यक्रम में समाज की दो प्रतिभाशाली बालिकाओं को उल्लेखनीय उपलब्धी हासिल करने पर सम्मानित किया गया (बड़ा स्कूल बैग, वार्षिक डायरी, पुष्पगुच्छ और नकद सम्मान राशि) प्रदान […]

Continue Reading