केप्टिन श्रीकिशोर करैया

व्यक्ति विशेष होली

हैहवंशी क्षत्रीय ताम्रकार (कसेरा ) समाज के गौरव
विलक्ष्ण प्रतिभा के धनी, केप्टिन श्री किशोर करैया ,होशंगाबाद

निष्ठावान कर्तव्यनिष्ठ अग्रणी समाज सेवी

केप्टिन श्रीकिशोर करैया आत्मज स्वर्गीय श्री गोवर्धनजी (बाबुलालजी करैया )आप हैहयवंशी क्षत्रीय ताम्रकार (कसेरा ) समाज के प्रदेश सचिव जैसे महत्व पूर्ण पद का भार कुशलता पूर्वक संभाल रहे है । समाज को आप पर गर्व है । आपकी गिनती, होशंगाबाद हैहयवंशी क्षत्रिय ताम्रकार (कसेरा ) समाज के वरिष्ठ सदस्य में होती है । समाज सेवी के रूप में भी आप ख्याती अर्जित कर चुके हैं । समाज को उन्नतिशील देखना चाहते हैं चाहते हैं,समाज को संगठित देखना चाहते हैं। वे चाहते हैं समाज के लोग ,,युवक-युवतियां , हर क्षेत्र में शिखर पर पहुंचें। आपके कुशल नेतृत्व में फरवरी 21 में हैहवंशी क्षत्रिय ताम्रकार (कसेरा ) समाज का संभागीय सम्मेलन का आयोजन ,एवं चुनाव हुआ।

विगत वर्ष बसंत पंचमीं के अवसर पर होशंगाबाद संभाग की आयोजन समिति बनाकर स्वाजातीय बंधुओं के सहयोग से आपके संयोजकत्व मैं हैहवंशीय कसेरा समाज का ऐतिहासिक परिचय एवं सामूहिक विवाह सम्मेलन का आयोजन हुआ जिसकी सर्वत्र सराहना हुई। साथ ही साथ आपकी संगठन छमता एवं अनुभव् का लाभ लेने 2020 में होशंगाबाद व्यापारी संघ के अध्यक्ष भी चुने गए। आपने हैहयवंशी क्षत्रीय कसेरा समाज का नाम रौशन किया है । मैं आपको भावी मध्यप्रदेश हैयवंशी क्षत्रीय ताम्रकार समाज के अध्य्क्ष के रूप मैं देखता हूँ।

आप कहते हैं—-
१- निष्ठा पूर्वक कर्म करने वाला ,अपने सिद्धांत पर अटल रहने वाला ,लक्ष्य पर नजर रखने वाला हमेशा सफल होता है।
२-दोस्त , किताब ,उदेश्य ,रास्ता ,सोच गलत हों तो ये गुमराह कर देते हैं। सहीं हों तो जिंदगी सवांर देते हैं। प्रगति में चार चाँद लगा देते हैं
३- अच्छे कर्म/ अच्छे संस्कार ही व्यक्ति को लोकप्रियता के शिखर पर पहुंचाते हैं।

प्रतिभा सम्पन्न साहित्य सेवक
————————— ————
हैहयवंशी कैप्टन श्री किशोर करैया किसी परिचय के मोहताज़ नहीं हैं आप नर्मदा आह्वान सेवा के समिति केसचिव के सम्मानजनक पद को बड़ी सादगी और गरिमा पूर्ण ढंग से संभाल रहे हैं। देश की अंचल की प्रतिभाओं को मंच प्रदान कर रहे हैं। आपकी संचालन क्षमता से नर्मदा आह्वान सेवा समिति ने अंचल मैं ही नहीं प्रदेश ,देश मैं अपनी विशेष पहचान स्थापित की । यही वजह है साहित्य अकादमी मध्यप्रदेश संस्कृति परिषद भोपाल द्धारा होशंगाबाद में पाठक मंच के संयोजक का दाइत्व साहित्य -सेवक श्री केप्टिन करैया जी को सौंपा गया है । लम्बे अंतराल के बाद होशंगाबाद में पाठक मंच के गठन और श्री केप्टिन किशोर करैया जी संजोयक का भार सौपे जाने से स्थानीय साहित्यकार तथा हैहयवंशी क्षत्रीय ताम्रकार समाज मैं खुशी की लहर दौड़ गई।किसलय साहित्य संस्था द्वारा आपका सम्मान किया गया।
नर्मदा सेवा आह्वान सेवा समिति प्रत्येक वर्ष एवं महत्वपूर्ण अवसरों पर साहित्यक आयोजन ,कवि सम्मेलन आयोजित करती है जिसंमें श्री केप्टिन किशोर करैया की प्रमुख भूमिका रहती है।

साहित्य सारथी  सम्मान

मार्च 2021 मेंअंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर नर्मदा आह्वान सेवा समिति होशंगाबाद में महिलाओं का सम्मान समारोह और विशाल कवि सम्मेलन आपके कुशल नेतृत्व मैं आयोजित किया गया । वरिष्ठ साहित्य सेवी के रुप में आप अपनी विशिष्ठ पहचान स्थापित कर चुके हैं। साहित्य सेवक के रूप मैं आपके योगदान को सम्मानित करने के लिए स्वतंत्रता संग्राम सेनानी श्री राधाकिसन चौकसे स्मृति *****साहित्य सारथी **** सम्मान के लिए आपके नाम की घोषणा की गई है। जिसे राष्ट्रीय साहित्यकार संंमेलन में दिनांक10 अप्रेल 21को प्रदान किया जाएगा।

आपकी विनम्रता एवं सादगी साहित्यकारों ,स्वाजन के प्रति प्रेम भाव का तब अनुभव हुआ जब मैंने अपनी आपातकाल और जयप्रकाशनारायण परलिखी काव्य कृती भेट की। उन्होंने तारीफ तो की ही अवगत कराया की इसे पाठक मंच पर रखा है ,ताकि ज्यादा से ज्यादा पाठक इसे पढ़ सकें। साथ ही भोपाल साहित्य परिषद भोपाल भी भेजने की सलाह दी । उच्च पद पर बैठे लोगों को कैसे विनम्र होना चाहिए उदाहरण पेश किया।

मेरा सदा से यह मानना रहा है व्यक्ति ऐसे ही बड़ा नहीं बनता। हकदार का तरफ़दार नहीं बनता उच्च पद पर नहीं पहुँचता ,इसमें संस्कारों की अहम भूमिका होती हैं। जो माँ -पिता दादा -दादी ,परिवार से, और गुरुजन से मिलते हैं जो व्यक्ति के कार्यों से झलकते हैं। । –

राजनैतिक विचारधारा
केप्टिन श्री किशोर करैया जी संस्कारवान ,राष्ट्रीयता से ओतप्रोत राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ,जनसंघ ,भारतीय जनता पार्टी की विचार धारा के करीब लगते हैं सिद्धांतों पर चलने वाले  सिद्धांतों को मानने वाले ,विनम्र ,मिलनसार पथ प्रदर्शककार्यकर्ता हैं। आप जितना समय समाज को देते हैं ,उतना ही समय साहित्यिक आयोजनों को देते हैं, राजनैतिक पार्टी के आयोजनों को देते हैं, अपने बर्तन व्यापार को देते हैं परिवार को देते है । यही वजह है केप्टिन करैया जी सबके चहेते हैं।दिल मैं बस्ते हैं ऐसा सर्वगुण संम्पन्न व्यक्ति लाखों में एक होता है । हमे गर्व है ऐसी विलक्ष्ण प्रतिभा का धनी व्यक्ति, सर्वगुण सम्पन्न व्यक्ति हमारे हैहवंशी क्षत्रीय ताम्रकार (कसेरा )समाज में है।उसका नेतृत्व कर रहा है।

आपकी नेतृत्व क्षमता का लाभ समाज को मिलता रहेगा पूर्ण विश्वास है। मिले सभी को जो ये वो शिक्षा हों।

आप कहते हैं —
१-यदि आप चार सफल व्यक्तियों के साथ रहते हैं तो सम्भावना है पांचवे सफल व्यक्ति आप होंगे।
२- सीखना कभी बंद मत कीजिये क्योंकि जिंदगी कभी शिक्षा देना बंद नहीं करती।
३- बुरी बात यह है कि समय कम है ,
अच्छी बात ये भी है ,
अभी भी समय है
भले ही कम है।

रमाकांत बडारया
Latest posts by रमाकांत बडारया (see all)