डिजिटल विमर्श

हर्बल राज्य का सपना कब होगा साकार

छत्तीसगढ़ को विश्व का पहला “हर्बल राज्य” राज्य घोषित किया गया है। यह एक सकारात्मक पहल है। कल्पना की जा रही है कि हर्बल राज्य आर्थिक दृष्टि से संपन्न तो होगा ही होगा, इसका प्रशासनिक ढांचा भी चुस्त...

आत्मा की आंखें: रामधारी सिंह दिनकर

राष्ट्रकवि ‘दिनकर’ की कविताओं में एक और ओज, विद्रोह और क्रांति की पुकार है तो दूसरी और कोमल श्रृंगारिक भावनाओं की अभिव्यक्ति । वे संस्कृत, बांग्ला, अंग्रेजी और उर्दू भाषा पर आधिकारिक पकड़ रखते थे ।...

ये हैं भविष्य के रोजगार, अपने बच्चों को करें तय्यार

जो लोग भविष्य की तैयारी वर्तमान में कर लेते हैं उनका भविष्य सफलतम समय देखता है । कोई खेल हो, जिंदगी के सपने हों, या रोजगार और अच्छे कैरियर की अभिलाषा, सफलता आज की आज नहीं मिलती । आज जिनको सफलता मिली है, उनकी...

समाज की खबरें

टेक्स्ट की साइज़ सेट करें